बागेश्वर- बंदरों के आतंक से पहाड़ है परेशान, अब एटीएम के अंदर पहुंचने लगे हैं बंदर

1
Monkey inside the ATM
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

बागेश्वर- उत्तराखंड़ के पहाड़ों में रहने वाले वन विभाग और नेताओं से कहते कहते थक गये , साहब इन बंदरों से हमें बचाइये, हमारे बाग-बगीचों के साथ साथ ये हमें काट खाने को दौड़ते हैं। लेकिन ना तो सरकार और ना ही वन विभाग कभी भी ग्रामीणों की इन शिकायतों पर संजीदा नजर आये।

कुछ ऐसा ही हाल इन दिनों बागेश्वर के लोगों का है। बंदरों से परेशान इस पहाड़ी इलाके में बीते सोमवार को कुछ ऐसा घटा जिसे देख हर कोई दंग रह गया। बागेश्वर तहसील रोड स्थित एसबीआई के एटीएम में घुसे बंदर ने कुछ ऐसा किया कि देखने वाले हैरान रह गए।

जब बंदर लगा कैश निकालने

शहर में बंदरों की दहशत है कि एसबीआई के एटीएम पर लगी भीड़ को पीछे करते हुए एटीएम के भीतर बंदर घुस गया। उसने वहां मशीन से छेड़छाड़ की। बंदर यहां मशीन के बटनों को छेड़ने लगा। बंदर की हरकतों से ऐसा लग रहा था जैसे वह मशीन से कुछ निकालना चाह रहा है। इस दौरान कैश निकालने के लिए लाईन में लगे लोगों में भगदड़ भी मची। हर कोई बंदर की इस करतूत को देखना तो चाह रहा था लेकिन यह डर भी लग रहा था कि कहीं बंदर उन्हें काट ना ले। इसलिए लोगों ने एटीएम से दूर हटने में ही भलाई समझी।

करीब 15 मिनट तक बंदर एटीएम मशीन पर छेड़छाड़ करता रहा। और जब उसे मशीन से कुछ भी नही मिला तो उसने भागने में ही भलाई समझी। एटीएम की लाईन में लगे संजय सिंह, हेमंत, बबलू और विनोद ने बताया कि लंबे समय से क्षेत्र में बंदरों का आतंक कायम है। राह चलते बंदरों के आतंक से निजात की गुहार कई बार वन विभाग से लगाई गई है , लेकिन अब तक कोई समाधान नही निकला है।