इस केन्द्रीय मंत्री ने दिया मायावती को ऑफर, साथ आने पर होगा दलितों का विकास

123
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

लखनऊ – न्यूज टुडे नेटवर्क : केंद्रीय राज्य मंत्री रामदास अठावले ने बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती की तारीफ करते हुए उन्हें दलित समाज का मजबूत नेता और अच्छा प्रशासक बताया। समाजवादी पार्टी व बहुजन समाज पार्टी के गठबंधन से भाजपा कहीं न कहीं घबराई हुई है। जिसके चलते वो पूरी कोशिश में हैं कि कैसे भी करके दोनों का ये साथ टूट जाए भाजपा ज्यादातर मायावती को सपा के खिलाफ भडक़ा रही है और पुराने गेस्ट हाउस कांड की चर्चा तो इस बीच आम हो चली है। वहीं अब तो भाजपा ने मायावती को एनडीए से जुडऩे का बड़ा ऑफर मंत्री रामदास अठावले ने एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान मायावती को दिया। उन्होंने जहां सपा-बसपा की दोस्ती पर सवाल खड़े किए, वहीं उन्होंने दावा किया कि सपा मायावती को धोखा दे रही है।

athawale

दलितों हित के लिए मायावती को आना चाहिए साथ

रिपब्लिक पार्टी ऑफ इंडिया के अध्यक्ष अठावले ने प्रसे कांफ्रेस में कहा कि अगर 2019 में तीसरा मोर्चा बनता भी है तब भी जीत हमारी ही होगी। बीजेपी के साथ मायावती तीन बार मुख्यमंत्री बन चुकी हैं। मायावती को दलितों के हित के लिए एनडीए के साथ आ जाना चाहिए। तब तैं, मायावती जी और रामविलास पासवान जी मिलकर केन्द्र सरकार से दलितों के कल्याण के लिए ज्यादा धन ले सकेंगे।

मायावती के साथ आने पर मिलेंगी 80 सीटें

अठावले ने माना है कि सपा-बसपा के एक साथ आने पर उन्हें 20-30 सीटों का नुकसान होगा, लेकिन इससे भाजपा की जीत पर ज्यादा कोई असर नहीं पड़ेगा। उन्होंने कहा कि सपा-बसपा के साथ आने पर भी हम 2019 में यूपी से 50 से ज्यादा सीट जीतेंगे, लेकिन अगर मायावती जी हमारे साथ आ जाती हैं तो हम सभी 80 सीटों पर जीत हासिल कर लेंगे।

बाबा साहब के नाम पर राजनीति नहीं होनी चाहिए

आंबेडकर के नाम पर छिड़ी सियासी जंग पर आठवले ने कहा कि बाबा साहब के नाम को लेकर राजनीति नहीं करनी चाहिए। रामजी उनके पिताजी का नाम था। इसलिए उनके नाम के साथ यह नाम जोड़ा जा रहा है। इस फैसले का स्वागत किया जाना चाहिए।