देहरादून- शहीद राकेश रतूड़ी की शहादत पर नतमस्तक हुई “सरकार” , परिवार को मिलेगी सरकारी नौकरी

Facebooktwittergoogle_pluspinterest

देहरादून- जम्मू के सुजवां में सैन्य शिविर पर बीते शनिवार 10 फरवरी को तड़के सुबह आतंकवादियों के हमले में शहीद हुए देहरादून के सैनिक राकेश चन्द्र रतूड़ी की शहादत ने पूरे देश को झकझौंर रख दिया है। कायराना हरकत को अंजाम देते हुए शिविर में घुसे आतंकवादियों ने फैमिली क्वार्टर्स में दाखिल होकर सो रहे लोगों पर गोलीबारी शुरू कर दी।

आतंकियों ने इस दौरान बमबारी भी की। इस गोलीबारी में हवलदार Rakesh Chandra Raturi समेत एक और जवान शहीद हो गया, जबकि 6 अन्य घायल हो गए।

शहीद के परिजनों से मिलकर सीएम त्रिवेन्द्र ने बंधाई ढांढस और दिया सरकारी नौकरी का आश्वासन

जब तक सूरज चाँद रहेगा…..

बीते रोज शहीद Rakesh Chandra Raturi का पार्थिव शरीर उनके देहरादून आवास पहुंचा । हर आमोखाश शहीद की एक झलक पाने को बेताब हो गया। आज सुबह जब शहीद राजेश की अंतिम विदाई की यात्रा शुरू हुई तो जनसैलाब ने अश्रूपूर्ण श्रद्धांजलि देकर भारत माँ की जय , जब तक सूरज चाँद रहेगा, राजेश तेरा नाम रहेगा समेत पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे भी लगाये। सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत भी शहीद हवलदार Rakesh Chandra Raturi के बड़ोवाला स्थित आवास पर गये, उन्होने पुष्पचक्र अर्पित कर शहीद रतूड़ी को श्रद्धांजलि अर्पित की।

Sunjwan martyr Rakesh Chandra Raturi
शहीद राकेश रतूड़ी को श्रद्धांजलि देते सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत

शहीद Rakesh Chandra Raturi के परिजनों को मिलेगी सरकारी नौकरी

मुख्यमंत्री ने शहीद के परिजनों को ढाँढस बँधाते हुए उनके परिवार को राज्य सरकार की ओर से हर सम्भव सहायता का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि परिवार के एक आश्रित को उनकी शैक्षिक योग्यता के आधार पर राजकीय सेवा में नियुक्ति प्रदान की जायेगी। इस अवसर पर उच्च शिक्षा राज्य मंत्री धन सिंह रावत, पूर्व मुख्यमंत्री एवं हरिद्वार सांसद डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक, विधायक गणेश जोशी, विनोद चमोली, सहदेव सिंह पुण्डीर, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने भी शहीद राकेश चन्द्र रतूड़ी को श्रद्धांजलि अर्पित की।

loading...