लखनऊ- इस बात पर अमित शाह ने लगाई योगी की जमकर क्लास, जा सकती है कुर्सी

108
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

लखनऊ- न्यूज टुडे नेटवर्क : मिशन 2019 को लेकर बीजेपी सुप्रीमों अमित शाह किसी भी तरह की चूक करने के मूड में नहीं है। बीते बुधवार को अमित शाह यूपी के दौरे में यह बात साफ हो गई। जी हां, इस दौरान अमित शाह ने योगी सरकार को जमकर फटकार लगाई। अमित शाह योगी सरकार के कामकाज से नाखुश नजर आएं, जिसके लिए एक महीने का अल्टीमेटम दिया है। बता दें कि यूपी बीजेपी हालत ठीक नहीं है, ऐसे में अमित शाह ने इसकी पूरी जिम्मेदारी योगी सरकार को दिया है। योगी सरकार को अमित शाह ने यूपी बीजेपी में सब कुछ ठीक करने का आदेश दिया है। साथ ही बागी विधायकों को भी एक साथ लाने का आदेश भी दिया है।

amit

शाह ने दिया योगी को सख्त निर्देश

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह योगी सरकार के कामकाज से जरा भी खुश नजर नहीं आएं, यही वजह है कि उन्होंने सीएम योगी को एक महीने के अंदर रिपोर्ट कार्ड सुधारने का आदेश दिया है। साथ ही योगी को सख्त निर्देश दिया है कि उत्तर प्रदेश में बीजेपी का सियासी गणित न बिगडऩे पाएं, ऐसे में देखने को वाली बात यह होगी कि क्या योगी अमित शाह के इस आदेश का पालन कर पाते हैं या फिर उत्तर प्रदेश में बीजेपी के सियासी गणित को सुधारने के लिए अमित शाह को ही काम पर लगना पड़ेगा। यूपी में सहयोगी पार्टियां भी बीजेपी से नाखुश चल रही है, जिसकी वजह से अमित शाह काफी टेंशन में दिखाई दे रहे हैं।

सहयोगी पार्टियों के साथ सामंजस्य बिठाएं

अमित शाह ने योगी सरकार से कहा कि वो सहयोगी पार्टी सुहेलदेव और अपना दल के बीच तालमेल बिठाने का काम करें, ताकि चुनाव में बीजेपी को किसी भी तरह का कोई नुकसान न हो। अमित शाह ने आगे कहा कि वो जल्द से जल्द एक बार फिर से यूपी का दौरा करेंगे, ऐसे में तब तक सरकार अपनी साख को सुधार लें। साथ ही शाह ने कहा कि सरकार प्रदेश के हित में काम करे लेकिन सहयोगियों को भी साथ लेकर चले।

amitshah

मंत्रियों से खुश नहीं शाह

शाह ने सख्त तेवर के साथ यूपी बीजेपी को कड़ी हिदायत दी। जी हां, अमित शाह ने कहा कि सरकार और संगठन एकजुट होकर काम करें। इसके अलावा शाह ने कहा कि वो कुछ मंत्रियों के कामकाज से बिल्कुल खुश नहीं है, ऐसे में वो जल्दी ही सरकार और जनता के हित में काम करें। साथ ही शाह ने योगी से कहा कि वो जल्द ही यूपी आएंगे, उस दौरान तक यूपी बीजेपी में सब कुछ ठीक होना चाहिए, वरना पार्टी किसी भी बड़े एक्शन को लेने के लिए मजबूर हो सकती है। गौरतलब है कि इन दिनों योगी सरकार गैंगरेप मामले में चौतरफा घिरी हुई है, जिसकी वजह से उसकी छवि खराब हो रही है।