उत्तराखंड में पर्यटन को बढ़ावा देने को क्रिकेट के मैदान से पहुंचा ये क्रिकेटर, बदलेगी पहाड़ की तस्वीर

653
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

[न्यूज टुडे नेटवर्क]. साल 2012 में अपनी कप्तानी में भारत को अंडर-19 विश्व कप का खिताब दिलाने वाला उत्तराखंड का क्रिकेटर उन्मुक्त चंद. क्रिकेट के साथ ही अपने गांववासियों के लिए कुछ करना चाहते हैं. तो उन्होंने फैसला लिया कि वह होम स्टे को बढ़ावा देंगे. जी हां भारत को अंडर-19 विश्व कप का खिताब दिलाने वाले उत्तराखंड के रहने वाले उन्मुक्त चंद हमेशा से ही अपने उत्तराखंड के लिए कुछ ऐसा करना चाहते थे. जिससे देश-विदेश से घूमने आए पर्यटक उत्तराखंड कि संस्कृति को जान पाएं.

उत्तराखंड की संस्कृति को ऐसे जानेंगे देश-विदेश से घूमने आए पर्यटक

कुमाऊं मंडल विकास निगम(KMVN) के साथ-साथ उत्तराखंड के क्रिकेटर उन्मुक्त चंद ने इस बार दारमा घाटी के दुग्तू, दातू, बालिंग और नांगलिंग गांवों में विशेष अभियान चलाकर लोगों के घरों में सुख सुविधाएं उपलब्ध कराने का काम शुरू किया है. निगम होम स्टे से जुड़े होम स्टे वाले घरों को एक रूप देने के मकसद से घरों के दरवाजे और खिड़कियों का सिर्फ हल्का हरा रंग(Light Green) पेंट करना अनिवार्य किया गया है. जिससे बाहर से आने वाले पर्यटक दूर से ही होम स्टे वाले घरों को पहचान पाएं.

स्थानिय लोग होम स्टे करने वाले पर्यटकों को घर जैसा माहौल, स्थानीय परंपरा, संस्कृति से भी रूबरू करायेंगे. इसके अलावा पर्यटकों को यहां के व्यंजनों को भी चखने का मौका मिलेगा.

क्या-क्या कर रहें हैं उन्मुक्त चंद अपने उत्तराखंड के लिए

उत्तराखंडी क्रिकेटर उन्मुक्त चंद अपने परिवारों(गांववासियों) को ट्रेनिंग भी दे रहे हैं. ताकि बाहर से आए पर्यटक उनके घरों में होम स्टे करें. और वहां के रहने वाले लोग उन पर्यटकों को अपनी संस्कृति अपने पहाड़ी व्यंजन, स्थानिय परंपराएं सीखा सकें.

पर्यटन सीजन में पंचाचूली और आसपास ट्रैकिंग पर जाने वाले पर्यटक इस बार दारमा घाटी के दुग्तू, दातू, बालिंग और नांगलिंग गांवों में होम स्टे के तहत लोगों के घरों पर ठहरेंगे. बता दें कि सिमांत क्षेत्रों में पर्यटकों के ठहरने के लिए कोई गेस्ट हाउस नहीं है. इसिलए यहां होम स्टे विकसित होने पर पर्यटकों को भी सुविधाएं मिलने के साथ स्थानिय लोगों की आय में इजाफा होगा. और यह सब क्रिकेटर उन्मुक्त चंद ने गांव में अभियान चलाकर वहां के स्थानिय लोगो को बताया.

यह भी पढ़े- रहस्य ! देवभूमि के इस खूबसूरत बंगले में रहता है ‘गोरा साहब’ का भूत…

यह भी पढ़े- उत्तराखंड के इस गांव में भूत करते हैं राज, भूलकर भी मत जाना आप…

यह भी पढ़े- पिथौरागढ़ का यह स्थान है पर्यटकों के लिए लाजवाब, ऐसे करें होम स्टे के लिए ऑनलाइन बुकिंग