काबा शरीफ के ऊपर उड़ान भरने के लिए क्यों है मना, नही है मक्का मदीना में कोई हवाई अड्डा

607
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

नई दिल्ली-न्यूज टुडे नेटवर्क : तो चलिए अब हम बात करते हैं काबा शरीफ की। क्या आपने इस बात पर कभी गौर किया है कि काबा शरीफ की कोई परछाई नहीं है और न ही इसके ऊपर से कोई हवाई जहाज उड़ सकता है और न ही कोई पक्षी। काबा पृथ्वी का केंद्र है यह किसी भी विचलन या विकृति के बिना पृथ्वी के मध्य में स्थित है। और क्योंकि यह गुरुत्वाकर्षण का केंद्र है, इसलिए यह स्वाभाविक रूप से इस स्थान पर चुंबकीय प्रभारों को आकर्षित करती है। यह सूर्योदय का स्वागत करने वाला पहला बिंदु है। इन कारणों और इस तथ्य के लिए कि काबा पृथ्वी पर गुरुत्वाकर्षण का केंद्र है, पृथ्वी की सतह पर गुरुत्वाकर्षण के ब्रह्मांडीय किरणों के आकर्षण और संगम का केंद्र, वैक्यूम क्षेत्र में हवा की परतें।

kaba2

पक्षी भी नही उड़ते काबा शरीफ ऊपर से

हैरान करने वाली बात है पूरे दुनिया से कहीं से भी कहीं भी पक्षी आ जा सकते हैं। हवाई जहाज भी उड़ सकते हैं लेकिन काबा शरीफ के ऊपर से क्यों नहीं उड़ सकते यह चीज वैज्ञानिक भी मान चुके हैं। काबा शरीफ पूरे दुनिया का एक सेंटर है जिसे वैज्ञानिकों ने भी माना है और यह ग्रेविटी का भी सेंटर है जिसके वजह से खिंचाव पैदा होता है जमीन की तरफ इसीलिए कोई भी चीज ऊपर से उडक़र पार नहीं हो सकती और यह भी चौंकाने वाली बात।

यह भी पढ़ें-इस राजपूत परिवार से क्यों थर-थर कांपता है पाकिस्तान, वजह जान रह जाएंगे हैरान

temporary_mataf_1

नही है मदीना में कोई एयरपोर्ट

इसीलिए पूरे मदीना में कोई भी एयरपोर्ट नहीं है लेकिन यह बात जानकर लोग इस्लाम कबूल कर रहे हैं और एक और चौका देने वाली बात है के काबा का कोई भी साया नहीं यानी के इसकी परछाई नहीं है आप चारों तरफ से देखेंगे तो काबा को तो आपको परछाई नजर नहीं आएगी यहां तक के पक्षी काबा के आसपास घूम कर चले जाते हैं लेकिन काबा के ऊपर से नहीं गुजरते। बहुत से लोग हज करने जाते हैं वह इस चीज के गवाह है आप उनसे जाकर पूछ सकते हैं ना तो इस पर से कोई हवाई जहाज उड़ सकता है ना तो कोई पक्षी।