हल्द्वानी- हाइकोर्ट के आदेश के बाद कैदियों की सुध लेने पहुंचा प्रशासन, मिली कई गड़बड़ियाँ

47
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

हल्द्वानी-  हाईकोर्ट के आदेशों के बाद आज जिला प्रशासन ने नैनीताल जिला कारागर और हल्द्वानी जेल रोड स्थित जेल की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। जिला जज कुमकुम रानी, जिलाधिकारी दीपेन्द्र कुमार चौधरी तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जन्मेजय खण्डूरी ने संयुक्त रूप से नैनीताल जिला कारागार और हल्दवानी जेल का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने कैदियों का हालचाल जाना और जेल नियमों के अनुसार मिल रही सुविधाओं की जानकारी भी ली।

Inspecting District prison
जिला कारागार में निरीक्षण करने पहुंचे डीएम, जिला जज, एसएसपी और जेल अधिकारी

नैनीताल जिला कारागार में है बंदी रक्षक बैरकों की हालत खराब

नैनीताल जिला कारागार कमेटी के सदस्यों ने जेल परिसर के निरीक्षण के दौरान वहाँ के रास्तों व पेयजल व विद्युत लाइनों की खस्ता हालत पर भी नाराजगी जाहिर की। इस दौरान जिला जज ने बताया कि हाई कोर्ट के आदेशों के बाद निरीक्षण में जो कमियां पाई गई उसकी रिपोर्ट अदालत में दी जायेगी। निरीक्षण के दौरान सीजेएम नंदन सिंह राणा व जेलर इरशाद हुसैन भी मौजूद थे।

Inspecting District prison
बंदी रक्षक बैरकों का निरीक्षण करती जिला जज कुमकुम रानी

डीएम चौधरी ने जेल में साफ-सफाई के साथ ही भोजन की गुणवत्ता बनाए रखने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने कहा कि जिन कैदियों की पैरवी किसी कारण नहीं हो पा रही है उनकी पैरवी हेतु सरकारी अधिवक्ता उपलब्ध कराऐं जायेगें। उन्होंने निर्देश दिये कि कैदियों से मिलने आने वाले मुलाकाती कैदियों के लिए सिर्फ गुड़, साबुन, बिस्कुट, फल व घी के आलावा और कुछ नहीं लायेंगें। उन्होने यह भी निर्देश दिये कि कैदियों से मुलाकात अधिकारियों के सामने ही कराई जाये। मुलाकात करने हेतु प्रार्थना पत्र लिये जांए। विचाराधीन बंदियों की सप्ताह में एक बार ही मुलाकातियों से मुलाकात करायी जाए। सदस्यों द्वारा बंदी रक्षक बैरकों का भी निरीक्षण किया गया तथा बैरकों की खराब हालत पर चिन्ता व्यक्त कर नाराजगी जताई।

फिलहाल जिला प्रशासन की टीम हल्द्वानी जेल में निरीक्षण में जुटी हुई है।

खबर अपडेट की जा रही है……