काम की खबर- 90 हजार पदों को जल्द भरने की तैयारी में है रेलवे, जारी हुआ रेलवे भर्ती परीक्षा का यह संभावित शेड्यूल

169
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

नई दिल्ली- न्यूज टुडे नेटवर्क: रेलवे में नौकरी का सपना पाल रहे देश के लाखों- लाख युवा इन दिनों रेलवे की परीक्षा का इंतजार कर रहे हैं। इस बीच रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष अश्वनी लोहानी ने कहा है कि भारतीय रेलवे अगले साल मार्च-अप्रैल तक 1 लाख से अधिक रिक्त पदों पर भर्ती का काम पूरा कर लेगा।

मार्च 2019 तक हो जाएंगी रेलवे की सभी नियुक्तियाँ

अश्विनी लोहानी ने कहा कि रेलवे के पास लगभग 1.10 लाख रिक्त पदों के लिए लगभग 2.27 करोड़ आवेदन आये हैं, जिसका विज्ञापन इस साल की शुरुआत में दिया गया था। इन पदों के लिए परीक्षाएं सितंबर, अक्तूबर और नवंबर में कराई जायेगी। इनमें रेलवे सुरक्षा बल के पद भी शामिल हैं।

उन्होंने बताया कि ”मार्च-अप्रैल 2019 तक ये नियुक्तियां हो जाएंगी। 10 जुलाई तक 2.37 करोड़ आवेदनों की छंटनी पूरी कर ली जाएगी। हम उनकी शारीरिक और मानसिक जांच दिसंबर-जनवरी तक पूरा कर लेंगे और मार्च तक उनकी नियुक्ति कर दी जाएगी। इसके साथ ही इस बार रेलवे उम्मीदवारों की वेटिंग लिस्ट भी जारी करेगा। वेटिंग लिस्ट में कुल वैकेंसी के 50 फीसदी उम्मीदवार शामिल किए जाएंगे।

बता दें कि रेलवे भर्ती बोर्ड ने फरवरी माह में ग्रुप डी के 62000 पद और असिस्टेंट लोको पायलट व टेक्नीशियन के 26000 पदों के लिए भर्तियां निकाली थी। इसके बाद करीब 10 हजार भर्तियां रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) में भी निकाली गई थी।

परीक्षार्थी कृपया ध्यान दें

लेवल-2 के पदों में लोको पायलेट, सहायक स्टेशन मास्टर आदि की लिखित परीक्षा के अलावा मनौवैज्ञानिक परीक्षा ली जाएगी, जबकि लेवल-1 के पदों में गैंगमैन, ट्रैकमैन, प्वांइटमैन आदि की लिखित परीक्षा होने के बाद संबंधित जोन में शारीरिक टेस्ट लिया जाएगा। अधिकारी ने बताया कि लेवल-1 की देशभर में एक दिन ही परीक्षा कराई जाएगी। इसी प्रकार दूसरे चरण में लेवल-2 की देशभर में एक दिन ही परीक्षा आयोजित होगी।

उम्मीदवारों को 15 भाषाओं में प्रश्न पत्र मिलेंगे – हिन्दी, इंग्लिश, उर्दू, बंगाली, पंजाबी, गुजराती, कन्नड़, कोंकणी, असमी, मलयालम, मराठी, उड़िया, तमिल और तेलुगू। इसके अलावा आरआरबी ने परीक्षा की संभावित तारीख घोषित करते समय उम्मीदवारों को सलाह दी है कि वह केवल आरआरबी की आधिकारिक वेबसाइट्स पर ही भरोसा करें। साथ ही परीक्षा को लेकर फर्जी खबरों से गुमराह होने से भी बचें।