नई दिल्ली- 1 सितंबर से शुरू हो रहा देश में ये नया बैंक, मिलेंगी 100 से ज्यादा सुविधाएं

72
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

नई दिल्ली- न्यूज टुडे नेटवर्क : लंबे इंतजार के बाद इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (IPPB) को 1 सितंबर को शुरू किया जाएगा। पीएम मोदी इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक का उद्घाटन करेंगे। आईपीपीबी देश का तीसरा पेमेंट्स बैंक होगा, इससे पहले एयरटेल और पेटीएम को यह परमिट मिल चुका है। पेमेंट्स बैंक के खाते में कोई भी व्यक्ति या छोटा बिजनेसमैन 1 लाख रुपये तक की राशि जमा कर सकता है।

बता दें कि पोस्ट पेमेंट्स बैंक की शुरुआत करने की तिथि को हाल ही में दोबारा से तय किया गया। पहले इसकी शुरुआत 21 अगस्त को होनी थी लेकिन 16 अगस्त को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की मौत के बाद आईपीपीबी की लॉन्चिंग की तिथि को बदल दिया गया था।

IPPB में मिलेंगी 100 सुविधाएं

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के माध्यम से उपभोक्ताओं को एक ही प्लेटफॉर्म पर फोन रीचार्ज, बिजली का बिल, डीटीएच सर्विस और कॉलेज की शुल्क जमा करने जैसी तमाम सुविधाएं मिलेंगी। इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के सीईओ सुरेश सेठी ने बताया कि आईपीपीबी की शुरुआत देशभर में 650 शाखाओं के साथ होगी। इसके अलावा विभिन्न डाकघरों में इसके 3,250 एक्‍सेस प्वाइंट होंगे। साथ ही शहरी व ग्रामीण इलाकों में करीब 11 हजार पोस्‍टमैन लोगों को घर-घर जाकर बैंकिंग सर्विस मुहैया कराएंगे।

हर जिले में IPPB की खुलेगी कम से कम एक ब्रांच

पोस्टल पेमेंट बैंक के जरिए ग्राहक RTGS, NEFT, IMPS ट्रांजेक्‍शन जैसी सुविधाओं का भी लाभ ले सकेंगे। यानी आप अपने खाते से किसी भी बैंक में RTGS, NEFT, IMPS कर सकते हैं और किसी भी अकाउंट से इनके जरिए राशि प्राप्त कर सकेंगे। थर्ड पार्टी टाइअप के माध्यम से आईपीपीबी के खाताधारक किसी भी प्रकार की वित्तीय सुविधाओं का इस्तेमाल कर सकते हैं।

आईपीपीबी की हर जिले में कम से कम एक ब्रांच खोली जाएगी। पेमेंट्स बैंक की शुरुआत करने का लक्ष्य ग्रामीण इलाकों में वित्तीय सेवाएं मुहैया कराना है। ग्रामीण इलाकों में वित्तीय सेवाएं मुहैया कराने के लिए सभी 1.55 लाख डाकघरों को इनसे जोड़ा जाएगा। यही नही सरकार की तरफ से पेमेंट्स बैंक का इस्तेमाल नरेगा का वेतन, सब्सिडी, पेंशन आदि के वितरण में किया जाएगा।