ये क्या- 1 दूल्हे की 2 दुल्हनें, दोनों हैं सगी बहनें; बचपन में ही तय हो गया था रिश्ता

957
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

[न्यूज टुडे नेटवर्क]. लड़के-लड़के की शादी होते हुए देखी. लड़की-लड़की की भी शादी होते हुए देखी. लेकिन एक लड़के की दो दुल्हनें वो भी सगी बहनें ऐसा कैसे हो सकता है. और तो और मामा की बेटियों से शादी ये तो कतई जुर्म कर बैठा. आपको क्या लग रहा है हम मजाक के मूड में हैं. नहीं बाबा नहीं.

सांकेतिक तस्वीर

पूरा मामला बताते हैं आपको

दरअसल, महाराष्ट्र में साईनाथ उरेकर नाम के शख्स की सगी बहनों से शादी कराई गई है. बहनों के नाम हैं- धुरपता और राजश्री शिरगिरे. 8 दिन पहले 5 मई को हुई इस शादी की वजह से कोटग्याल गांव चर्चा में आ गया है. शादी के लिए बाकायदा कार्ड पर नाम छापे गए जिसपर दोनों बहनों के नाम लिखे थे.

सांकेतिक तस्वीर

बीबीसी हिन्दी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, परिवार वालों को अब डर है कि कहीं शादी के बाद दूल्हा-दुल्हनों की नई जिंदगी शुरू होने से पहले ही खत्म न हो जाए. क्योंकि काफी लोग यहां आ रहे हैं और पूछताछ कर रहे हैं. एक रिश्तेदार ने कहा कि परिवार वालों को नहीं पता था कि लड़के का दो बहनों से शादी करना कानूनी रूप से सही नहीं है.

बचपन से ही मामला सेट था

खास बात ये है कि दूल्हे और दुल्हन पहले से रिश्तेदार हैं. राजश्री और धुरपता साईनाथ के मामा की बेटियां हैं. साईनाथ इनके साथ ही रहकर पले-बढ़े हैं. बचपन में ही साईनाथ की शादी धुरपता से तय कर दी गई थी. लेकिन बीमारी ठीक नहीं होने की वजह से उसकी शादी बाद में राजश्री से तय की गई.

सांकेतिक तस्वीर

वहीं साईनाथ का कहना है कि उन्होंने खुद दोनों से शादी के लिए हां किया था. और शादी के बाद खुश भी हैं. दूसरी ओर, धुरपता बीमार रहती है और मंदबुद्धि है. उसकी शादी में दिक्कत हो रही थी. इसी वजह से राजश्री का जब साईनाथ से रिश्ता तय हुआ तो उन्होंने कहा कि उन्हें धुरपता से भी शादी करनी होगी. इसके बाद साईनाथ मान गए.