उत्तराखंड़- 6 साल का मासूम पूछ रहा है सवाल, आखिर किसने किया मुझ पर HIV का वार ?

Facebooktwittergoogle_pluspinterest

रुड़की- रूड़की में 6 साल के मासूम के एचआईवी पॉजीटिव निकलने से हड़कंप मच गया। जिसने भी सुना वह भौचक्का रह गया। परिजनों ने आरोप लगाया कि बल्ड बैंक से खून चढ़वाने के बाद ही उसे एचआईवी हुआ है। हरियाणा के रहने वाले एक व्यक्ति ने ज्वांइट मजिस्ट्रेट से शिकायत करते हुए बताया कि स्थानीय ब्लड बैंक से खून चढ़वाने के बाद उसके 6 साल के बेटे में एचआईवी पॉजिटिव के लक्षण पाए गए हैं। पीड़ित पिता की आपबीती सुन अधिकारी भी हैरान रह गए । ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने तुरंत इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं।

6 बार चढा मासूम को खून

दरअसल बीते रोज जब ज्वाइंट मजिस्ट्रेट  सरकारी अस्पताल का निरीक्षण करने गई तो हरियाणा के रहने वाले एक व्यक्ति ने बताया कि उसका 6 साल का बेटा एचआईवी पॉजिटिव पाया गया है। पीड़ित पिता की  शिकायत थी कि उसका बेटा काफी समय से बीमार चल रहा था। पिछले दिनों वह किसी काम से परिवार के साथ रुड़की आए थे तबियत खराब होने पर उन्होंने उसे रुड़की के ब्लड बैंक में उसे खून चढ़वाया। 6 बार अलग-अलग तारीखों में उसे खून चढ़ाया गया। इसके बाद जांच की गई तो उसमें एचआईवी पॉजिटिव के लक्षण पाए गए हैं।

अस्पताल ने दी सफाई

मासूम बच्चे से जुड़े इस संवेदनशील मामले में ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने हॉस्पिटल के सीएमएस डॉ. अरविंद मिश्रा और ब्लड बैंक की पैथोलोजिस्ट रीतू खेतान से जवाब तलब किया। अपनी सफाई में दोनों ही मेडिकल स्टॉफ ने कहा कि उनके यहां पूरी जांच करने के बाद ही खून चढ़ाया जाता है। ऐसे में कोई चूक होने की गुंजाइश ही नहीं है। उनका कहना था कि बच्चे का इलाज पहले हरियाणा में चल रहा था वहां भी उसे इंजेक्जन लगे । ऐसे में हो सकता है कि उससे इंफेक्शन हुआ हो। ऐसे में पीड़ित परिवार ने मासूम के गुनहगारों को कठोर से कठोर सजा दिलाने की मांग की है। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने जांच कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

loading...