हल्द्वानी के इस स्कूल के बच्चों को नहीं है ट्रैफिक नियमों की परवाह, पुलिस ने पकड़ा तो बोले SORRY-SORRY

2003
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

हल्द्वानी- न्यूज टुडे नेटवर्क: पुलिस द्वारा चलाए गए चैकिंग अभियान में फेल हुए बिरला स्कूल के बच्चे। बता दें मौजूदा समय में ट्रैफिक नियमों को लेकर नगर में प्रशासन शक्ति बरते हुए है। ऐसे में दोपहिया वाहन में डबल हेलमेट शुरू करने के बाद पुलिस द्वारा अब नाबालिग स्कूल छात्रों को ट्रैफिक नियमों का पाठ पढ़ाया जारहा है। इसी क्रम में आज सुबह टीपी नगर चौकी पुलिस ने छडै़ल स्थित आर्यमन विक्रम बिरला स्कूल के बाहर चैकिंग अभियान चलाया। हालंकि यह अभियान महज एक जागरूक अभियान था।

लेकिन इस चैकिंग अभियान ने स्कूल के छात्रों की पोल खोलकर रख दी। पुलिस जानकारी अनुसार चैकिंग के दौरान दर्जनों बच्चे बिना लाईसेंस के स्कूटी चलाते पाए गए। वहीं आदा दर्जन छात्र बिना हेलमेट स्कूल को जाते दिखें। इसपर कार्यावही करते हुए फिलहाल पुलिस ने सभी बच्चों के परिजनों से संपर्क करके बच्चों को वार्निंक देकर छोड़ दिया है। साथ ही भविष्य में ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करते पाएं जाने पर पुलिस ने उचित कार्यवाही करने की बात भी कहीं है।

परिजन रखें नाबालिग बच्चों का ध्यान

पुलिस ने बिरला स्लूक के बाहर कार्यवही के दौरान नियम का उल्लंघन करते पाए छात्र-छात्राओं के परिजनों को अपने नाबालिग बच्चों पर नज़र रखने के निर्देश दिए है। पुलिस मुताबिक अधिकतर मां-बाप अपने नाबालिग बच्चों को उनके आराम के लिए स्कूटी या बाईक सौप देते है। जो की सेफ नहीं है। बिना लाईसेंस और बिना हेलमेट के छात्र-छात्राएं बाद में कानून को अपने हाथ में ले लेते है। ऐसे में भविष्य में नाबालिग बच्चे यदी स्कूलों में या फिर मार्केट में स्कूटी या बाईक चलाते पाए गए तो पुलिस ने इनके खिलाफ कार्यवाही करने की बात कही हैं।