हल्द्वानी- नौनिहालो को कुपोषण से बचाने के लिए प्रशासन ने शुरू किया ये अभियान, इस तरह करेंगे कार्य

43
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

हल्द्वानी- न्यूज टुडे नेटवर्क: नैनीताल जिले में नौनीहालो को कुपोषण से बचाने के लिए जिला प्रशासन ने कुपोषण मुक्त अभियान की शुरूआत की है। इसके तहत नैनीताल जनपद के प्रशासनिक अधिकारियों को नोडल अधिकारी बनाते हुए कुपोषित बच्चों की जिम्मेदारी सौपी गई है। इसी क्रम में आज हल्द्वानी के ब्लॉक सभागार में सही पोषण-देश रोशन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कुमाऊ कमिश्नर राजीव रौतेला रहे।

कार्यक्रम में उन्होंने जानकारी दी कि जिले के सभी कुपोषित बच्चो को कुपोषण से बाहर निकालने के लिए प्रशासन ने एक रूप रेखा तैयार की है। जिसके तहत कुपोषित और अधिक कुपोषित की श्रेणी में आने वाले बच्चे, जिनका वचन तय मानक के अनुसार काफी कम है। उनको इस अभियान के तहत प्रशासन कुपोषण के चक्र से बाहर लाने का कार्य किया जाएगा। इस अवसर पर उन्होंने कार्यक्रम में मौजूद बच्चो के परिजनों को बच्चो के स्वास्थ्य को गम्भीरता से लेते हुए उन्हें सही पोषण देने की बात कहीं।

नोडल अधिकारी संभालेंगे बच्चो के पोषण का जिम्मा

जनपद के ऐसे गांव जहा कुपोषित या अधिक कुपोषित बच्चो की संख्या अधिक है। ऐसे हर गांव को प्रत्येक नोडल अधिकारी कोद लेकर इन बच्चो के सही पोषण का जिम्मा उठाएंगे। मंडलायुक्त ने इन अधिकारियों को ऐसे प्रत्येक गांव में सही पोषण-देश रोशन कार्यक्रम संचालित करके लोगो को जागरूक करने के भी आदेश दिए हैं।

बता दें प्रशासन के सर्वे अनुसार जिले में 92 बच्चे अधिक कुपोषित जबकी 1700 बच्चे कुपोषण के शिकार पाए गए है। ऐसे में मंडलायुक्त ने इन बच्चों को कुपोषण की रेखा से बाहर निकालकर सही पोषम देने की बात कही है। उन्होंने कहा कि हमारा मकसद कुपोषण मुक्त समाज बनाना है। इस खास मौके पर प्रत्येक अधिकारी द्वारा एक-एक कुपोषित बच्चे को गोद भी लिया गया।