हल्द्वानी- जब जल संस्थान में खाली बाल्टियां लेकर जा धमके बूढ़े, बच्चे और जवान, पानी-पानी हो गए अफसर

233
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्क: तेज गर्मी ने एक ओर जहां लोगो को झकझौंर कर रख दिया है वही दूसरी ओर शहर के लोगो को भीषण गर्मी में पानी के लिए भी तरसना पड़ रहा है।तेज गर्मी में हल्द्वानी शहर में पेयजल किल्लत से लोग बेहद परेशान है। आलम यह है कि अब बर्तन लेकर लोग जलसंस्थान के कार्यालय में प्रदर्शन कर रहे है।राजपुरा, इंदिरा नगर, काठगोदाम सहित कई इलाको में पानी की बूंद-बूंद को लोगों को तरसना पड़ रहा है।

दफ्तरों से बाहर नहीं निकलते जलसंस्थान के अफसर

जल सस्थान में बर्तन लेकर प्रदर्शन कर रहे लोगो का आरोप है कि जल संस्थान के अधिकारी अपने दफ्तरों से बाहर नही निकलते है। जिससे इनको पेयजल लाईनों के लीकेज का पता तक नही चल पाता। और इसी वजह से पेयजल किल्लत लगातार बढ़ रही है। लोगो का कहना है कि यदि अविलम्ब पेयजल किल्लत दूर नही की गई तो पूरे इलाके के लोग बर्तन लेकर जल संस्थान में अपना डेरा जमायेगे।

गरीब कहां से चलाए पानी की मोटर

मामले में काग्रेस नेता हेमन्त साहू ने बताया कि राजपुरा पड़ाव में पिछले काफी समय से पेजल संकट व्याप्त छोटे-छोटे बच्चे पानी के लिये भटक रहे। जबकि क्षेत्र में दो-दो नलकूप है फिर भी जनता को परेशानी का सामना करना पड़ रहा। हेमन्त के मुताबिक विभाग के अधिकारियों द्वारा हमेशा पेयजल व्यवस्था ठीक होने का राग अलापा जाता है, जो कि सरासर झूठ का पुलिन्दा है। राजपुरा पड़ाव में पानी बगैर मोटर के नही आ रहा है।

जलसंस्थान के बाहर खाली बर्तन लेकर प्रदर्शन करते लोग

क्षेत्र में गरीब लोग की संख्या बहुत अधिक है। हर आदमी मोटर नही लगा सकता। उन्होंने विभाग को चुनौती देते हुए जल्द व्यवस्था ठीक करने की बात कही है। साथ ही ऐसा न होने पर घेराव व विभाग में ताला बन्दी करने को कहा। प्रदर्शनकारियों ने जेई आरपी डोबाल का घेराव कर तत्काल टैंकर द्वारा पेयजल उपलब्ध कराने की मांग भी की।

इस दौरान कुन्दन प्रधान, हिमान्शु गाँधी, सूरज कुमार, सन्तराम, उत्तम कुमार, सुनीता देवी, नरेश कुमार, हीरा देवी, कान्ता प्रसाद, हरीश कुमार, जितेन्द्र कुमार समेत दर्जनों क्षेत्र वासी मौजूद रहे।