हल्द्वानी के ये दुकानदार अपने ग्राहकों को खिला रहे थे बासी मीट, आज हुई बड़ी कार्रवाई

1128
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

हल्द्वानी- न्यूज टुडे नेटवर्क: हल्द्वानी के कई ईलाको में दूषित व बिना जांच का मीट धड़ल्ले से दुकानों में बेचा जा रहा हैं। लंबे समय से ये दुकानदार कंदा मीट बेचकर अपने ग्राहकों के स्वासथ्य के साथ खिलवाड़ करते आ रहे है। इनकी इस काला बाजारी के खिलाफ ऐक्शन लेते हुए आज खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने इन दुकानों में झापामार कार्रवाई की है। इस दौरान मौके पर मीट के सैंपल दूषित पाए जाने पर कई दुकानदारों के खिलाफ टीम ने लाइसेंस निरस्त करने की कार्यवाई भी की हैं।

इन दुकानों में हुई कार्रवाई

जानकारी मुताबिक खाद्य सुरक्षा विभाग ने शहर की मीट की दुकानों पर छापेमारी अभियान चलाया। इस दौरान टीम ने मंगल पड़ाव स्थित 10 मीट की दुकानों के लाइसेंस निरस्त करने की कार्यवाही को अंजाम दिया। खाद्य अधिकारी कैलाश टम्टा ने जानकारी दी कि मंगल पड़ाव के अलावा लाइन नंबर 17 वनभूलपुरा क्षेत्र में भी मीट की दुकानों पर छापेमारी अभियान चलाया गया। इस दौरान दुकान में रखे मीट के सैंपल लिए गए। बताया कि कई दुकान ऐसी मिली हैं, जहां बिना डॉक्टरी जांच के मीट बेचा जा रहा था। उनके लाइसेंस निरस्त किए जाएंगे।

खाद्य सुरक्षा अधिकारी टम्टा ने बताया कि शहर में स्लाटर हाउस बंद पड़े हैं। ऐसे में मीट-मुर्गा बेचने वालों के खिलाफ अभियान चलाया गया हैं। उन्होंने बताया कि जिन दुकानदारों का चालान किया गया है उनसे 10 दिन के भीतर मांस काटने का स्थान बताने, पशु चिकित्सक से मांस प्रमाणित करने संबंधी जानकारी उपलब्ध कराने को कहा गया है। टम्टा ने बताया कि यदि दुकानदार संतोषजनक जवाब नहीं दे पाये तो लाइसेंस रद्द करने की कार्रवाई की जाएगी।