जानलेवा चूक: हल्द्वानी के इस अस्पताल में पत्नी का ईलाज कराने आया था पति, खुद हो गया भर्ती

5859
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

हल्द्वानी- न्यूज टुडे नेटवर्क: संजय पाठक- नैनीताल रोड स्थित कृष्णा हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर में जानलेवा लापरवाहियों का सिलसिला थमने का नाम नही ले रहा है। आज दोपहर अस्पताल में लगे एसी के कंप्रेशर में ऐसा विस्फोट हुआ कि उसकी चपेट में अस्पताल में भर्ती महिला का पति आ गया। धमाका इतना जबर्दस्त था कि तीमारदार पति का चेहरा बुरी तरह लहूलुहान हो गया।

एसी का कंप्रेशर फटने से घायल तीमारदार पति

हॉस्पिटल के आसपास मौजूद लोगों ने बताया कि कंप्रेशर फटने की आवाज इतनी तेज थी कि अस्पताल में मौजूद दूसरे बीमार और तीमारदार भी सकते में आ गए।

कराने आए थे पत्नी का ईलाज , खुद हो गए भर्ती

युकेडी युवा प्रकोष्ठ के केंद्रीय अध्यक्ष सुशील उनियाल ने बताया कि अस्पताल में भर्ती महिला यूकेडी युवा प्रकोष्ठ की जिलामंत्री सोनिया रावत हैं, जिन्हें गर्भवती होने के चलते 3 दिन पूर्व अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। पुत्री को जन्म देने के बाद सोनिया अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती थीं।

अस्पताल में भर्ती यूकेडी की महिला नेता सोनिया रावत के पति हो गए अस्पताल की जानलेवा चूक के शिकार

आज दोपहर जब उनके पति घर पर खाना लेने के लिए जा रहे थे तब अचानक अस्पताल के बाहर एसी का कंप्रेशर फट पड़ा। गनीमत रही उस वक्त यूकेडी नेता के पति ने हेल्मेट पहना हुआ था। जिस वजह से बड़ा हादसा होने से बच गया। फिलहाल उनका ईलाज चल रहा है। यूकेडी नेता सुशील उनियाल ने बताया कि फिलहाल वो शहर से बाहर हैं , बहुत जल्द अस्पताल की खामियों को लेकर अस्पताल प्रबंधन से बात की जाएगी।

नेक्स्ट जेनरेशन वीआरवी 4 टेक्नोलॉजी का होगा इस्तेमाल

बता दें कि कुछ दिन पहले भी एसी मैंटिनेंस के दौरान कृष्णा अस्पताल का एसी कंप्रेशर फट गया था। जिसकी चपेट में 3 कर्मचारी आ गए थे, जिसमें से 2 गंभीर रूप से घायल हो गए थे। बताया जा रहा है कि अस्पताल में मौजूद एसी काफी पुराने हो चुके हैं। जिस वजह से आज दोपहर अस्पताल में एसी कंप्रेशर अचानक अपने आप ही फट पड़ा। ऐसे में एक बार फिर अस्पताल में मौजूद सुविधाओं पर सवाल खड़े हो गए हैं।

डॉ. जे.एस. खुराना

उधर इस जानलेवा चूक पर कृष्णा हास्पिटल के प्रबंध निदेशक डॉ. जे.एस. खुराना ने कहा कि बीते दिनों हुए हादसे से सबक लेते हुए अस्पताल प्रबंधन द्वारा लगातार  एसी मेंटिनेंस को लेकर मीटिंग का दौर जारी है।

डॉ. जे.एस. खुराना ने कहा कि यह घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। फिलहाल अस्पताल के सभी एसी बन्द कर दिए गए हैं। बहुत जल्द एयरकंडीशनिंग के लिए नेक्स्ट जेनरेशन वीआरवी 4 टेक्नोलॉजी का अस्पताल में इस्तेमाल किया जाएगा। जिसके बाद एसी से जुड़ी किसी भी प्रकार की दिक्कत का सामना नही करना पड़ेगा।