newstodaynetwork Banner

पोखरण: सैन्‍य आयुध अभ्यास के दौरान तोप से निकला गोला फटा, एक जवान शहीद

न्यूज टुडे नेटवर्क। सेना की फायरिंग रेंज में अभ्यास के दौरान तोप से निकलते ही गोला फट जाने की वजह से एक जवान की मौत हो गई। यह अभ्यास राजस्थान के पोखरण में किया जा रहा था। मंगलवार रात को आयुधों के संचालन के अभ्यास को लेकर यह बड़ी घटना हो गई। यहां 105 एमएम
 | 
पोखरण: सैन्‍य आयुध अभ्यास के दौरान तोप से निकला गोला फटा, एक जवान शहीद

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। सेना की फायरिंग रेंज में अभ्‍यास के दौरान तोप से निकलते ही गोला फट जाने की वजह से एक जवान की मौत हो गई। यह अभ्‍यास राजस्‍थान के पोखरण में किया जा रहा था। मंगलवार रात को आयुधों के संचालन के अभ्‍यास को लेकर यह बड़ी घटना हो गई। यहां 105 एमएम गन (तोप) से गोले दागते समय एक गोला वहीं पर फट गया। हादसे में बीएसएफ के एक जवान की जान चली गई। वहीं 3 अन्य जवान घायल हो गए। पिछले 4 दिन के दौरान पोकरण में 105 एमएम गन से यह दूसरा हादसा हुआ है। तब गन की बैरल फटने से एक जवान जख्मी हो गया था।

Devi Maa Dental

बीएसएफ ने पूरे मामले की जांच के आदेश दिए हैं। सैन्य सूत्रों के मुताबिक, बीएसएफ इन दिनों सेना की पोकरण स्थित फायरिंग रेंज में अभ्यास कर रही है। सीमा के निकट किशनगढ़ में बीएसएफ की खुद की फायरिंग रेंज है। लेकिन 105 एमएम गन की रेंज 17 किलोमीटर होने के कारण इससे गोले दागने का अभ्यास बड़ी फायरिंग रेंज पोकरण में किया जा रहा है।

मंगलवार देर रात इस गन से एक गोला दागते ही यह दूर जाने के बजाए बाहर निकलते ही फट गया। इस गन के पास खड़े चार जवान घायल हो गए। बाद में उत्तर प्रदेश निवासी जवान सतीश की सांसें थम गईं। 3 अन्य घायलों का इलाज चल रहा है। इनकी हालत खतरे से बाहर है।

Bansal Saree

जोधपुर स्थित बीएसएफ के राजस्थान फ्रंटियर मुख्यालय ने हादसे की पुष्टि की है। अधिकारियों का कहना है कि हादसे के कारणों का पता लगाया जा रहा है। अमूमन गोला अपने लक्ष्य पर जाकर ही फटता है। पता लगाया जाएगा कि चूक किस स्तर पर और कैसे हुई? ताकि भविष्य में इस तरह के हादसों से बचा जा सके।

इससे पहले शनिवार को फायरिंग रेंज में 105 एमएम गन से गोले दागने के दौरान बैरल फटने से सेना का एक जवान घायल हो गया था। उसका जोधपुर के सैन्य अस्पताल में इलाज चल रहा है।