जन्मदिन विशेष- क्रिकेट की पिच पर डॉन ब्रैडमैन ने बनाए वो रिकॉर्ड, जो आज तक नही टूट पाए

72
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

नई दिल्ली- न्यूज टुडे नेटवर्क: सदी के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज व पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान सर डोनाल्ड जॉर्ज ब्रैडमैन के 110 वें जन्मदिन को गूगल ने डूडल बनाकर श्रद्वांजली दी है। क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले ब्रैडमैन का जन्म 27 अगस्त 1908 को ऑस्ट्रेलिया में हुआ था। उन्हें ‘द डॉन’ के नाम से भी जाना जाता है। ब्रैडमैन का टेस्ट में 99.94 का औसत था जो कि आज दिन तक एक विश्व रिकॉर्ड है।

गूगल ने डूडल बनाकर महान क्रिकेटर ब्रैडमैन के जन्मदिन को किया सेलिब्रेट

क्रिकेट के भगवान ‘ब्रैडमैन’ का यादगार सफर

सर ब्रैडमैन ने अपना क्रिकेट करियर 1928 में शुरू किया था। 1948 में उन्होंने अपनी आखिरी पारी खेली थी और क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। उन्होंने अपने टेस्ट करियर में 29 शतक और 12 दोहरे शतक बनाए। सर ब्रैडमैन ने घरेलू क्रिकेट में 95.14 के औसत से 28,067 रन बनाए जिसमें उनका हाई स्कोर 452 नॉट आउट रहा। घरेलू क्रिकेट करियर में उन्होंने 117 शतक लगाए। उन्होंने 13 अर्द्धशतक भी लगाए। गेंदबाजी की बात करें तो उन्होंने 52 टेस्ट मैचों में 2 विकेट लिए।

Cricketer Sir Donald Bradman

सर ब्रैडमैन ने 80 टेस्ट मैचों में 99.94 के औसत से कुल 6,996 रन बनाए थे। वो औसतन हर तीसरी पारी में एक शतक लगाते थे। ब्रैडमैन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 100 का औसत हासिल नहीं कर पाए, लेकिन शेफील्ड शील्ड में उनका औसत 100 के पार था। शेफील्ड शील्ड की 96 पारियों में उनका औसत 110.19 था।

मास्टर ब्लास्टर ने किया डॉन ब्रैडमैन को कुछ ऐसे याद

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने सर डॉन ब्रैडमैन को सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर करते हुए याद किया है। तेंदुलकर ने ट्वीट कर लिखा है कि 20 साल हो गए हैं जब मैं डॉन ब्रैडमैन से मिला था, लेकिन उनकी यादें अब भी जिंदा हैं। मुझे अब भी उनकी गजब की जानकारी और समझ के बारे में अच्छी तरह से याद है। उनके 110वें जन्मदिन पर आज उनको याद कर रहा हूं।

Cricketer Sir Donald Bradman 110th Birtday

जब बैडमैन ने एक दिन में लगाया तीसरा शतक

सर डोनाल्ड जॉर्ज ब्रैडमैन अपने आखिरी टेस्ट के दौरान शून्य पर आउट होकर 100 का अद्भुत औसत हासिल करने से चूक गए थे। उन्हें टेस्ट क्रिकेट में सात हजार रन पूरे करने और 100 का औसत हासिल करने के लिए सिर्फ चार रन की जरूरत थी। लेकिन ब्रैडमैन मैच के पहले ही दिन लेग स्पिनर एरिक होलिस की गेंद पर बोल्ड हो गए। उनके नाम एक टेस्ट मैच श्रृंखला में सबसे ज़्यादा 974 रनों का रिकॉर्ड भी है। इसके साथ ही सर ब्रैडमैन एक ही दिन में तीसरा शतक (309 रन) जमाने वाले इकलौते बल्लेबाज भी हैं।

सर डॉन ब्रैडमैन ने 3 ओवर में शतक लगा दिया था। उस वक्त 8 गेंदों का ओवर हुआ करता था और ब्रैडमैन ने 22 गेदों में शतक बनाया था। ये मुकाबला 1931 में ब्लैकहीथ इलेवन और लिथगो इलेवन के बीच खेला गया था। ब्रेडमैन ने इस मैच में 256 रन जड़े थे। जिसमें 14 छक्के और 29 चौके शामिल थे। यही वजह है कि क्रिकेट का यह महान जादूगर आज पूरी दुनिया में क्रिकेटर्स के लिए किसी रोलमॉडल से कम नही है।