दिल्ली के स्कूलों और कॉलेजों में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स को केजरीवाल सरकार ने दिया तोहफा, लंबे समय से थी की जा रही थी ये मांग

121
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

नई दिल्ली- न्यूज टुडे नेटवर्क: दिल्ली के कॉलेजों और दिल्ली सरकार से मान्यता प्राप्त स्कूलों में पढने वाले विद्यार्थियों के लिए सीएम अरविन्द केजरीवाल ने सुखद फैसला लिया है। केजरीवाल सरकार ने फैसला लिया है कि अब स्टूडेंट्स पास से एसी बसों में भी सफर किया जा सकेगा। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने परिवहन मंत्री को निर्देश दिया कि एसी बसों में स्टूडेंट पास लागू करने के प्रपोजल को जल्द लागू करने के लिए कदम उठाए जाएं।

सीएम केजरीवाल की मांग का ख्याल रखते हुए परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने ट्वीट कर बताया कि इस प्रपोजल को जल्द लागू किया जाएगा।

लाल रंग की इन्हीं एसी बसों में अब स्टूडेट्स कर सकेंगे ‘पास’ के साथ सफर

कुछ इस तरह ट्वीट करके स्टूडेट्स को सुनाई सीएम अरविन्द केजरीवाल ने खुशखबरी

बता दें कि दिल्ली में डीटीसी की करीब 3750 बसें हैं और क्लस्टर स्कीम की 1650 बसें हैं। डीटीसी की 1275 एसी बसों को छोड़कर बाकी सभी नॉन एसी और क्लस्टर स्कीम की बसों में स्टूडेंट पास लागू होता है। स्टूडेंट पास की दो कैटिगरी हैं। एक पास 100 रुपये में बनता है और एक कैटिगरी 150 रुपये के बस पास की है। दिल्ली सरकार से मान्यता प्राप्त सभी सरकारी व प्राइवेट स्कूलों, एमसीडी स्कूलों के छात्रों को भी इस स्कीम का फायदा होगा। इसके अलावा दिल्ली विश्वविद्यालय के छात्रों को भी इस योजना के दायरे में लाने की योजना है।

सीएम अरविन्द केजरीवाल

छात्रों की मांग को पूरा करेगी केजरीवाल सरकार

दिल्ली परिवहन निगम की एसी बसों में भी छात्रों के रियायती पास को मान्य कराने की मांग को लेकर वाम छात्र संगठन ऑल इंडिया स्टूडेंट एसोसिएशन (आईसा) ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर के बाहर बीते रोज 6 घंटे तक धरना दिया। बाद में 6 छात्रों के एक प्रतिनिधिमंडल ने सीएम केजरीवाल से मुलाकात भी की।

मीटिंग में छात्रों की मांग पर सकारात्मक रूख अपनाते हुए सीएम केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि परिवहन मंत्री को एसी बसों में भी छात्रों के पास को इजाजत देने के लिए प्रस्ताव जल्द तैयार करने का निर्देश दिया है।