हल्द्वानी- 3 दिन में जनता के हक में नही लिया ये फैसला तो चोरगलिया वाले हिला देंगे सरकार

559
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

हल्द्वानी- न्यूज टुडे नेटवर्क: स्टेट वाईल्ड लाईफ बोर्ड द्वारा नन्धौर सेंन्चुरी को टाईगर रिजर्व बनाने की सहमति देने के बाद चोरगलिया और नन्धौर क्षेत्र में इस निर्णय का भारी विरोध शुरू हो गया है । सैंकड़ों की तादाद में महिलाओं और ग्रामीणों ने आज एफटीआई पहुंचकर मुख्य वन संरक्षक कुमाऊं कपिल जोशी का घेराव किया ।

नन्धौर सेंन्चुरी को टाईगर रिजर्व बनाने की सहमति देने के बाद चोरगलिया और नन्धौर क्षेत्र में भड़के ग्रामीणों ने मुख्य वन संरक्षक कुमाऊं के कार्यालय में प्रदर्शन किया

नन्धौर और चोरगलिया से आए ग्रामीणों ने राज्य सरकार व वन विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए ग्रामीणों को बर्बाद करने के तुगलकी फैसले को तुरन्त वापस लेने की मांग की । पूर्व क्षेत्र पंचायत सदस्य भुवन पोखरिया ने कहा कि टाईगर रिजर्व बनने के बाद उनके हक हकूक प्रभावित हो जायेगें । अगर सरकार ने 3 दिन के भीतर ग्रामीणों के हक में फैसला नही लिया तो ग्रामीण विधानसभा और सचिवालय का घेराव करेंगे।

देख लिया है रामनगर का हाल , अब नही खाएंगे धोखा

चोरगलिया ग्राम प्रधान सुरजीत कौर ने कहा कि ग्रामीणों से पूछे बगैर यह निर्णय लिया गया है। इससे मानव वन्य जीव संघर्ष भी बढ जायेगा। उन्होंने रामनगर टाईगर रिजर्व के आस पास रह रहे लोगों का हाल पहले से देख लिया है लिहाजा ग्रामीण किसी भी कीमत में नन्धौर सेन्चुरी को नन्धौर टाईगर रिजर्व नही बनने देगें ।

मुख्य वन संरक्षक कुमाऊं और पश्चिमी वृत्त के अधिकारियों के सामने विरोध जताते चोरगलिया के ग्रामीण

वहीं वन विभाग के मुख्य वन संरक्षक कुमाऊं कपिल जोशी ने कहा कि टाइगर रिजर्व बनाने के लिए स्थानीय सहभागिता का होना जरूरी है। बिना ग्रामीणों की सहभागिता के टाईगर रिजर्व नही बनाया जा सकता। उन्होंने बताया कि इस मामले में वन संरक्षक पश्चिमी वृत्त को स्थानीय ग्रामीणों से समन्वय बनाने के लिए निर्देशित किया गया है।