पिथौरागड़- शहीद पवन सिंह सुगड़ा के नाम से चलेगा अब गंगोलीहाट डिग्री कालेज, सीएम त्रिवेन्द्र को खोला घोषणाओं का पिटारा

67
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

पिथौरागड़- मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने आज राजकीय इण्टर कॉलेज गंगोलीहाट के खेल मैदान में आम जनता से भेंट की तथा जनसमस्याएं सुनी। सीएम त्रिवेन्द्र ने जनसमस्याओं के निवारण कार्यक्रम में नई पहल करते हुए स्वयं जनता के मध्य जाकर उनकी समस्याओं से रूबरू हुए, मुख्यमंत्री ने जनता को आश्वस्त किया कि उनकी जो भी समस्याऐं होगी उनका शतप्रतिशत निश्चित रूप से समाधान किया जायेगा। उन्होंने मौक पर ही जनसमस्याओं के त्वरित निस्तारण के निर्देश जिलाधिकारी पिथौरागढ़ एवं सम्बन्धित अधिकारियों को दिये।

शहीद को समर्पित होगा डिग्री कालेज

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने क्षेत्र के विकास हेतु अनेक घोषणाएं की जिसमें राजकीय महाविद्यालय गंगोलीहाट का नाम शहीद पवन सिंह सुगड़ा का नाम पर रखे जाने, बेलपट्टी, भेरंग पट्टी, ग्वासीकोट, राईआगर हेतु लिफट पंपिंग पेयजल योजना, गणाई बासुकीनांग पेयजल योजना का निर्माण, पांखू कोटगाड़ी मोटरमार्ग का सुधारीकरण किये जाने, राईआगर-सेराघाट मोटरमार्ग के मध्य विभिन्न स्थानों में काॅजवे निर्माण समेत विभिन्न सड़कों तथा सड़क मार्गों का डामरीकरण किया जाना शामिल है। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने इस अवसर पर 25.49 करोड़ रूपये की 14 विकास योजनाओं का भी शिलान्यास किया गया।

10 महीनों में खत्म हुआ भ्रष्टाचार

कार्यक्रम संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार के 10 माह पूर्ण होने जा रहे है इन 10 माहों में प्रदेश में भ्रष्टाचार को पूर्णतः समाप्त करने में सरकार सफल रही है, उन्होंने कहा कि उनका मुख्य उद्देश्य भ्रष्टाचार को जड़ से मिटाना है। इस मुहिम को सफल बनाने में सभी से भागीदारी निभाने की उन्होंने अपील की। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कृषि को भी स्वरोजगार का प्रभावी माध्यम बनाने के लिय सरकार द्वारा अनेक योजनाएं संचालित की गयी है, किसानों की आय वर्ष 2022 तक दोगुना किये जाने के उद्देश्य से 2 प्रतिशत ब्याज दर पर एक लाख तक का ऋण किसानों को उपलब्ध कराया जा रहा है, वर्तमान तक पूरे प्रदेश में एक लाख 40 हजार किसानों को यह ऋण दिया जा चुका है जनपद पिथौरागढ़ में अभी तक तीन हजार किसानों को यह ऋण दिया गया है इसे और अधिक बढ़ाया जायेगा।

शहीद के परिजन को मिलेगी नौकरी

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में शिक्षा व्यवस्था को ओर अधिक सुदृढ़ किये जाने हेतु प्रत्येक महाविद्यालय में प्राचार्य नियुक्त करने के साथ ही शिक्षकों  की तैनाती हेतु प्राचार्य को अधिकार दिये गये है। उन्होंने प्रदेश में बेहतर चिकित्सा सुविधा मुहैया कराये जाने के सम्बंध में अवगत कराया कि पूर्व में प्रदेश में सरकार द्वारा मात्र 15000 रू0 फीस लेकर चिकित्सक बनाये गये थे परन्तु उनके द्वारा सेवा शर्तों के अनुरूप प्रदेश में अपनी सेवा न देकर प्रदेश से बाहर सेवा दे रहे ऐसे चिकित्सकों को उत्तराखंड में चिकित्सा सेवा मुहैया कराये जाने का नोटिस दिया गया है जिसमें से 150 चिकित्सक शीघ्र ही प्रदेश में अपनी सेवाएं देगें।

इसके अतिरिक्त 2200 चिकित्सकों के प्रदेश में सेवा देने हेतु आवेदन प्राप्त हुए है जिन के साक्षात्कार की कार्यवाही चल रही है शीघ्र ही प्रदेश के सभी चिकित्सालयों में चिकित्सक तैनात हो जायेंगे। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही 500 नर्सों की भी भर्ती की जायेगी। इसके अतिरिक्त सभी जनपदों 108 सेवा के नये वाहन उपलब्ध कराये जा रहे है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा सैन्य एवं अर्धसैन्य बल में तैनात वीरसपूत के शहीद होने पर उनके परिवार के एक सदस्य को सरकारी सेवा में नौकरी दी जायेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य के अन्तिम व्यक्ति के विकास हेतु पूरी संवेदनशीलता से कार्य कर रही हैं।


सीएम ने किया 14  विकास योजनाओं का शिलान्यास

मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र सिंह रावत द्वारा कुल लागत 25.49 करोड़ रू0 की जिन 14 विकास योजनाओं का शिलान्यास किया गया। उनमें 1037.17 लाख लागत से कुनलता मोटर मार्ग का पुनः निर्माण का कार्य का शिलान्यास, राजकीय कुक्कुट प्रक्षेत्र विण पिथौरागढ़ की बाउण्ड्रीवाल का निर्माण योजना की लागत 55.00 लाख रू0 का शिलान्यास, टनकपुर तवाघाट मोटरमार्ग के ऐचोंली नामक स्थान से रोडवेज वर्कशाप तक सम्पर्क मार्ग में सी0सी0 व इन्टर लाकिग लगाने के कार्य का शिलान्यास योजना की लागत 44.14 लाख रू0, जनपद पिथौरागढ़ में रोडवेज वर्कशाप तिराहे से निराडा तक मोटरमार्ग में डामरीकरण के कार्य का शिलान्यास योजना की लागत 154.19 लाख रू0, बुंगाछीना से नगरोडा तक मोटरमार्ग में डामरीकरण के कार्य का शिलान्यास योजना की लागत 46.39 लाख रू है।

डीडीहाट विधानसभा में होंगे ये काम

जनपद पिथौरागढ़ के विधानसभा क्षेत्र डीडीहाट के अंतर्गत नाघर कुमलता प्रकर्टिया मोटरमार्ग के कि0मी0 1 व 2 में डामरीकरण (द्वितीय चरण) के कार्य का शिलान्यास योजना की लागत 137.35 लाख रू0, राज्य योजना के अंतर्गत जनपद पिथौरागढ़ के विधानसभा क्षेत्र डीडीहाट के अंतर्गत वड्डा अड़किनी मोटरमार्ग के झोलखेत नामक स्थान से तल्ली मूनाकोट मोटरमार्ग का नवनिर्माण (द्वितीय चरण) के कार्य का शिलान्यास योजना की लागत 65.59 लाख रू है।

जनपद पिथौरागढ़ के विधानसभा क्षेत्र डीडीहाट के अंतर्गत लछैर से गाड गांव तक मोटरमार्ग में डामरीकरण (द्वितीय चरण) के कार्य का शिलान्यास योजना की लागत 211.05 लाख रू0, राज्य योजनान्तर्गत जनपद पिथौरागढ़ के विधानसभा क्षेत्र डीडीहाट के अंतर्गत पमतोड़ी, भांतड, कुकरौली, मसमोली मोटरमार्ग में मसमोली से तड़ीगांव तक मोटरमार्ग में डामरीकरण के कार्य का शिलान्यास योजना की लागत 142.16 लाख रू0, राज्य योजनान्तर्गत जनपद पिथौरागढ़ के विधानसभा क्षेत्र डीडीहाट के अंतर्गत सेरासुनाली हरड़कटिया मोटरमार्ग में दीवार, स्कपर निर्माण एवं आलईमल मन्दिर तक विस्तार कार्य का शिलान्यास योजना की लागत 432.00 लाख है।

राज्य योजनान्तर्गत जनपद पिथौरागढ़ के विधानसभा क्षेत्र गंगोलीहाट के अंतर्गत थर्प बड़ेत बाफिला मोटरमार्ग के निर्माण कार्य की पुनरीक्षित स्वीकृति का शिलान्यास योजना की लागत 109.82 लाख रू0, धरीडीकुण्ड पेयजल योजना का शिलान्यास योजना की लागत 44.17 लाख रू0 सांगौर पेयजल येाजना का शिलान्यास योजना कीलागत 29.11 लाख रू0 काने (कोठेरा) पेयजल येाजना का शिलान्यास योजना की लागत 40.45 लाख रू0 शामिल है।

5 किसानों को बांटे 1-1 लाख के चैक

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने 5 कृषकों को एक-एक लाख रूपये के कृषि ऋण के चैक वितरित किये गये। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं कार्यक्रम के अंतर्गत सभी को बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं की शपथ दिलायी। उन्होंने कहा कि जनपद पिथौरागढ़ पूर्व में सर्वे के अनुसार 1000 बालकों पर 813 बालिकाएं थी जो इन 10 माहों में विशेष अभियान तथा जनता की जागरूकता के अनुसार 1000 पर 914 हो गयी है इसके लिये उन्होंने जिलाधिकारी को बधाई दी।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री द्वारा वयोवृद्ध भाजपा प्रतिनिधि दिवान सिंह एवं भगवान बल्लभ पंत को साल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में प्रदेश के कैबिनेट मंत्री श्री प्रकाश पंत तथा विधायक गंगोलीहाट मीना गंगोला द्वारा भी जनता को संबोधित किया गया। कार्यक्रम से पूर्व मुख्यमंत्री ने गंगोलीहाट पहॅुचकर सर्वप्रथम महाकाली मन्दिर में पूर्ण विधि विधान के साथ पूजा अर्चना की तथा राज्य खुशहाली की कामना की। मन्दिर कमेटी के अध्यक्ष नरेन्द्र रावल द्वारा क्षेत्र की विभिन्न मांगों से संबंधित ज्ञापन मुख्यमंत्री को दिया।

इस अवसर पर जिलाधिकारी पिथौरागढ़ सी. रविशंकर, पुलिस अधीक्षक अजय जोशी, मुख्य विकास अधिकारी  वन्दना सहित विभिन्न जनप्रतिनिधि, जनपद स्तरीय अधिकारी तथा क्षेत्रीय जनता उपस्थित थी।