ATM से पैसा निकालते वक्त भूलकर भी ना करें ये 4 गलतियाँ , वरना हो जाएंगे कंगाल

123
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

नई दिल्ली- न्यूज टुडे नेटवर्क: आज के वक्त में सूचना तकनीक की बदौलत लाईफ आसान हो गई है। ऐसे में सहूलियतों के साथ ही कई बार जरा सी चूक परेशानी का सबब बन जाती है। ऐसे में रूपयों की निकासी के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले ATM में भी कई बार लेने के देने पड़ जाते हैं ।

यह तो आप जानते ही हैं कि एटीएम एक ऐसी सुविधा है जिसमें 24 घंटे पैसा निकाला जा सकता है, लेकिन एटीएम के इस्तेमाल में जरा सी चूक भारी पड़ते देर नही लगती है। आजकल एटीएम फ्रॉड की घटनाएं भी बढ़ती जा रही हैं। कई बार लोग पैसा निकालते समय ऐसी गलती करते हैं, जिनसे कार्ड के हैक होने का खतरा रहता है। ऐसे में जरा सी सावधानी बरतने पर साइबर क्राइम और फॉड के खतरे से बचा जा सकता है।

कैसे बचें एटीएम की ठगी से

जब भी ATM से पैसे निकालने जाएं तो ATM के कार्ड स्लॉट को ध्यानपूर्वक देखें। अगर आपको लगे की ATMकार्ड स्लॉट में कोई छेड़खानी की गई है या फिर स्लॉट ढीला है या कोई और गड़बड़ है तो उसका प्रयोग भूलकर भी न करें।

कार्ड स्लॉट में कार्ड लगाते समय ATM में जलने वाली लाइट पर ध्यान दें। अगर स्लॉट में ग्रीन लाइट जल रही है तो ATM सुरक्षित है, लेकिन अगर उसमें लाल या कोई भी लाइट नहीं जल रही है तो ATM प्रयोग न करें। इसमें कुछ गड़बड़ी हो सकती है।

आपके डेबिट कार्ड का पूरा एक्सेस लेने के लिए हैकर्स के पास आपका पिन नंबर होना आवश्यक है। हैकर्स पिन नंबर को किसी कैमरे से ट्रैक कर सकते हैं। इससे बचने के लिए आप जब भी ATM में अपना पिन नंबर एंटर करें तो उसे दूसरे हाथ से छुपा लें ताकि उसकी इमेज सीसीटीवी कैमरा में न जा सके।

क और जरूरी बात, वो ये कि कभी भी फोन पर आए किसी कॉल पर अपने एटीएम और बैंक डिटेल की जानकारी देने से बचें। अक्सर देखने में आता है कि कोई व्यक्ति खुद को बैंक या रिजर्व बैंक का कर्मचारी बताकर एटीएम के नंबर और दूसरी जानकारी लेने की कोशिश करता है। लेकिन आपको बता दें कि बैंक कभी भी अपने ग्राहकों से एटीएम अथवा बैंक अकाउंट की डिटेल नही पूछता। बावजूद इसके अक्सर लोग ठगों का शिकार हो जाते हैं। ऐसे में बैंकों की तरफ से अपने उपभोक्ताओं को जागरूक करने के लिए समय-समय पर जानकारी भी दी जाती है।