हरिद्वार- ज्योतिष ज्ञान: 18 अप्रैल से शनि होंगे वक्री, इन राशियों की खुलेगी किस्मत

90
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

हरिद्वार- न्यूज टुडे नेटवर्क: जीवन में खुशियाँ पाने के लिए हर इंसान दिन- रात जुगत में लगा रहता है। पूजा पाठ से लेकर मंत्रोचार तक हर विधि को अपनाता है। भारतीय ज्योतिष के अनुसार ग्रहों का भी मनुष्य के जीवन में सकारात्मक और नकारात्मक असर पड़ता है। हर ग्रह की अपनी दशा और दिशा होती है। ऐसे में आज हम आपको शनि ग्रह से जुड़ी यह जानकारी शेयर कर रहे हैं। ज्योतिष के अनुसार शनि हर साल वक्री होते हैं। इस बार बुधवार 18 अप्रैल को शनि वक्री होने जा रहे है। ज्योतिष के अनुसार 18 अप्रैल को धनु राशि में वक्री होगा और गुरुवार सुबह 6 सितंबर की शाम तक वक्री रहेगा। शनि कुल 142 दिनों के लिए वक्री होने जा रहा है और इसका असर 12 राशियों पर पड़ेगा।

शनि के वक्री होने पर राशियों पर पड़ेगा ये प्रभाव

मेष राशि

शनि मेष राशि के दसवें और ग्यारहवें भाव का स्वामी है। इसके नवम भाव में रहने से करियर में रुकावट आएगी। इस समय आपको परिश्रम करने की जरूरत है।

वृष राशि

वृष राशि वालों को इस गोचर से पारिवारिक जीवन में कष्ट का सामना करना पड़ सकता है। आपको परिवार वालों के साथ रिश्ते मधुर बनाने के लिए कई प्रयास करने होंगे।

मिथुन राशि

शनि के वक्री होने से आपको फायदा होगा कार्य स्थल पर आपको सफलता मिलेगी। मान सम्मान बढ़ेगा। आपको शुभ समाचार भी मिल सकते है।

अगली स्लाइड में जानें शनि के वक्री होने से कर्क ,सिंह और कन्या राशि वालों के कैसे बदलेगी किस्मत