6 वर्ष का बच्चा जो 32 वर्षीय महिला को बता रहा अपनी पत्नी, बेहद चौकानें वाली खबर

365
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

नई दिल्ली- न्यूज टुडे नेटवर्क : लोगों के जहन में पुनर्जन्म को लेकर तरह तरह के ख्याल आते रहते हैं इस बात को लेकर कि वो पिछले जन्म मे क्या थे और क्या नहीं कोई दो राय नही है इस बात मे की लोगों के मन में पुनर्जन्म को लेकर तरह तरह के सवाल गहराए रहते हैं। आज हम आपके सामने एक ऐसी ही अटपटी सी घटना लेकर आए हैं जिसे सुनकर आप भी हैरानी में पड़ जाएंगे। जब आपको पता चलेगा कि आधी रात के समय एक 6 साल का बच्चा एक दरवाजा खटखटाता है और दरवाजा एक महिला द्वारा खोला जाता है वह उस महिला को कहता है दरवाजा खोलो मैं तुम्हारा पति हूं। यह बात सुनकर महिला हैरानी में पड़ जाती है और सोचने लगती है कि यह बच्चा क्या कह रहा है। जी हां वह 6 साल का बच्चा उस महिला के पति होने का दावा करता है और उसे कहता है कि वह उसका पति है। आइए बताते हैं पूरी घटना-

6-years-boy-2

क्या है पूरा मामला

आज हम अपने इस पोस्ट में आपको मिलाने जा रहे हैं एक 6 साल के बच्चे से जो साल 2006 से पहले की बातें याद कर रहा है और अपने पुनर्जन्म से जुड़ी हुई बहुत सी ऐसी बातें बता रहा है जिसने वहां के सभी लोगों को हैरान और अचंभित कर दिया है। वह 6 साल का बच्चा अपने पुनर्जन्म की बातें बता कर वहां का एक व्यक्ति होने का दावा करता है इस बात से आसपास के सभी क्षेत्रों में चौका देने वाला माहौल बना हुआ है।यह पूरी घटना जींद के गांव जलालपुर की है जहां पर एक 4 साल के बच्चे ने अपने पुनर्जन्म की सारी बातें अपने घर वालों को बता कर अचंभे में डाल दिया है। 4 साल पहले यह बच्चा विनोद और मसिंद के घर पैदा हुआ। वह उस बच्चे के जन्म से बहुत खुश थी और उसका नाम रखा लविश। उसके माता पिता का कहना है कि जब वह ढाई साल का था तभी से रामराई जाने की जिद किया करता था। उसके माता-पिता को शक हुआ कि उसे पुनर्जन्म की बातें याद आ रही है इसलिए वह रामराय जाने की जिद करता है।

6-years-old-boy

करंट लगने से हुई थी मौत

लविश के माता-पिता ने बिल्कुल भी देख नहीं की और उसे राम राई गांव लेकर गए वहां जाकर उसने अपने परिवार जनों को ही नहीं बल्कि अपने पड़ोसियों तक को पहचान लिया। इतना ही नहीं बल्कि वह अपने परिवार जनों के साथ उस जगह पर भी गया जहां पर उसकी करंट लगने की वजह से मौत हो गई थी यह सब देखने के बाद उसकी 32 साल की पूर्व जन्म की पत्नी फूट फूट कर रोने लगी। उसने अपने पुनर्जन्म की सारी बातें उन लोगों को बतायी।

6-years-boy-3

जब उसने का कि यह उसकी पुर्नजन्म की तस्वीर है

ज्योति स्वरूप का पूरा परिवार रामराई में रहता था उनका बेटा था उसका नाम संदीप था जिसकी मौत 26 जुलाई 2004 को करंट लगने की वजह से हो गई थी। उस समय वह 16 वर्ष का था और 11वीं कक्षा में पढ़ता था समय उसकी मौत हुई। उस समय के तस्वीर लविश को दिखाई गई और उसने कहा यह तो मेरी पुनर्जन्म की तस्वीर है। पुनर्जन्म की कहानियां पर विश्वास क्यों नहीं होता है लेकिन ऐसी घटनाएं देखकर पुनर्जन्म की कहानी पर विश्वास करने का मन करता है।

यह भी पढ़ें-यहां शादी से पहले दूल्हे को पीना पड़ता है जानवरों का खून, जानिए क्यों?

यह भी पढ़ें-यहां शादी से पहले दूल्हे को पीना पड़ता है जानवरों का खून, जानिए क्यों?