रामनगर: पुलिस के ये 2 सिपाही यमराज की पकड़ को कर देते हैं ढीली, जानिये किस्सा

1988
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

रामनगर – न्यूज टुडे नेटवर्क: अक्सर जब कभी अपराधियों के बुलंद हौंसलों की खबरें आती हैं तो पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े हो उठते हैं। लेकिन आज रामनगर से एक ऐसी खबर आई जिसने एक बार फिर पुलिस की मित्र छवि को उजागर किया है। दरअसल आज सुबह रामनगर के बालाजी मंदिर के पास दुर्घटनावश एक महिला नहर में डूब गई। इस दौरान नहर के पास से ही पुलिस कांस्टेबल प्रयाग और संजय सिंह गुजर रहे थे। जैसे ही पुलिस के जवानों ने महिला को पानी के बीच डूबते हुए देखा तो दोनों ने बिना देर करे ही नहर में छलांग लगा दी। और सकुशल महिला को बाहर निकाल दिया। फिलहाल महिला को राजकीय चिकित्सालय में उपचार चल रहा है।

अस्पताल में भर्ती महिला के साथ पुलिस के बहादुर जवान प्रयाग और संजय सिंह

एमए अर्थशास्त्र का वायवा देने जा रहे थे पुलिस के जवान

दरअसल जिस वक्त पीरूमदारा की रहने वाली कुसुम नाम की महिला दुर्घटनावश नहर में डूब रही थी उस वक्त रामनगर पुलिस के कांस्टेबल प्रयाग और संजय सिंह रामनगर डिग्री कालेज में एमए अर्थशास्त्र का वायबा देने जा रहे थे। लेकिन जब उन्होंने महिला को नहर में डूबते देखा तो बिना देरी किये उन्होंने नहर में छलांग लगा दी।

जैसे ही इस घटना का पता पीड़ित महिला के परिजनों के साथ ही शहर के बाकि लोगों को लगा तो सभी ने पुलिस के दोनों जवानों के हिम्मत और हौंसले की तारीफ की। पुलिस के दोनों की जवान वर्तमान में सीओ लोकजीत सिंह के गनर के रूप में तैनात हैं।