रजिस्ट्रेशन के लिए नहीं लगाने होंगे आरटीओ के चक्कर

45
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

हल्द्वानी : एक मई से नए वाहन लेने वाले लोगों को वाहने के रजिस्ट्रेशन के लिए अब आरटीओ के चक्कर नहीं लगाने होंगे। एक मई के बाद वाहन खरीदने वाले लोगों के वाहन का रजिस्ट्रेशन शोरूम में ही होगा और रजिस्ट्रेशन फीस भी वहीं जमा कराई जाएगी। वाहन खरीदने के बाद अब आपको सिर्फ नंबर प्लेट के लिए आरटीओ जाना पडे़गा। क्योंकि एक मई से डीलर प्वाइंट रजिस्ट्रेशन शुरू हो जाएगा। संभागीय परिवहन विभाग के कामों को बोझ कम करने के लिए यह रजिस्ट्रेशन शुरू किया जा रहा है। यह व्यवस्था हल्द्वानी के साथ-साथ रुद्रपुर, काशीपुर, रामनगर, टनकपुर आदि जगहों पर भी शुरू होगी। इसके लिए आरटीओ की ओर से ही डीलर के लिए एक लाॅगइन आईडी और एक पासवर्ड जारी किया जाएगा। जिससे ग्राहकों के वाहन का रजिस्ट्रेशन मौके पर ही हो जाएगा। अब डीलर के द्वारा ही वाहन के रजिस्ट्रेशन की कार्रवाई की जाएगी तथा उसी के माध्यम से वाहन के संबंध में डाटा आॅनलाइन फीड करना होगा। वाहन के रजिस्ट्रेशन का शुल्क ही डीलर के पास जमा होगा। ग्राहकों की इसकी जानकारी मैसेज के जरिए जाएगी। डीलर खुद ही रजिस्ट्रेशन फाइल को आरटीओ कार्यालय में ले जाएगा। आरटीओ इसकी जांच करने के बाद वाहन का रजिस्ट्रेशन कर वाहन का नंबर जारी करेगा। ग्राहक को सिर्फ अपना गाड़ी का रजिस्ट्रेशन नम्बर लेने के लिए ही आरटीओ कार्यालय जाना होगा।
डीलर प्वालंट रजिस्ट्रेशन की कर्मचारियों को दी ट्रेनिंग
मंगलवार को रामपुर रोड पर स्थित एक होटल में डीलर प्वाइंट रजिस्ट्रेशन की ट्रेनिंग दी गई। इस ट्रेनिंग में हल्द्वानी व इसके आप-पास के लगभग 60 डीलर शामिल हुए। इस दौरान आरटीओ नैनीताल राजीव मेहरा, एआरटीओ देहरादून अरविंद पांडे, एआरटीओ प्रशासन हल्द्वानी संदीप पांडे, एआरटीओ रामनगर विमल पांडे, एआरटीओ रुद्रपुर नंदकिशोर, एआरटीओ काशीपुर अनीता चंद, एआरटीओ टनकपुर रश्मि भट्ट आदि मौजूद थे।
परिवहन का काम छीना जा रहा: संघ
डीलर प्वाइंट रजिस्ट्रेशन का उत्तराखण्ड परिवहन मिनिस्ट्रियल संघ नैनीताल ने विरोध जताया है। संघ की प्रदेश अध्यक्ष सुषमा सिंह ने कहा कि परिवहन विभाग का काम छीना जा रहा है। वाहनों के रजिस्ट्रेशन के लिए भी ग्राहकों से डीलरों द्वारा रजिस्ट्रेशन के रुप में मोटी रकम वसूली जाएगी। इसलिए संघ इसका विरोध कर रहा है। इसी सिलसिले में उत्तराखंड परिवहन मिनिस्ट्रियल संघ नैनीताल के लोगों ने आरटीओ नैनीताल राजीव मेहरा को भी ज्ञापन सौंपकर विरोध जताया था।