भीमताल : गुनीगांव-पनियाली मिनी बोरिंग पेयजल पूर्ण कराने पर डीएम रावत हुए सम्मानित

66
Facebooktwittergoogle_pluspinterest

 भीमताल-क्षेत्र पंचायत धारी में मंगलवार को क्षेत्र के विकास से सम्बन्धित बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में विधायक राम सिंह कैडा, ब्लॉक प्रमुख अंजू नयाल के अलावा जिलाधिकारी दीपक रावत व अन्य जनप्रतिनिधियों द्वारा प्रतिभाग किया गया। बैठक में सड़क, बिजली, पानी, स्वास्थ्य, सिंचाई, से सम्बन्धित अनेकों समस्याएं जनप्रतिनिधियों द्वारा प्रस्तुत की गयी। गुनीगांव के जनप्रतिनिधियों द्वारा जिला योजना के अन्तर्गत ग्राम पंचायत गुनीगांव-पनियाली मिनी बोरिंग पेयजल पूर्ण कराने पर जिलाधिकारी को सम्मानित किया।

बैठक को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी दीपक रावत ने कहा कि अधिकारी क्षेत्रों का भ्रमण कर, जनप्रतिनिधियों के साथ मिलकर समस्याओं का समाधान करना सुनिश्चित करें, ताकि समस्याओं का त्वरित निराकरण किया जा सके। उन्होनें कहा कि जनप्रतिनिधियों द्वारा सदन में उठाई गई समस्याओं को शीघ्रता से निराकरण कर सम्बन्धित जनप्रतिनिधियों को भी अवगत करायें। साथ ही उन्होनें सभी को आधार कार्ड बनाने की अपील भी की। अब सभी योजनाओं एवं सरकारी सुविधाओं का लाभ लेने हेतु आधारकार्ड अनिवार्य कर दिया गया है। इसलिए सभी जनता राशनकार्ड व बैंक खाते से आधार लिंक करें, तभी राशन व वित्तीय सुविधाएं उपलब्ध होंगी। जिलाधिकारी ने क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों की मांग पर शीघ्र लकडी के सडे-गले पोलों को बदलने के निर्देश दिये। साथ ही पेयजल की बर्बादी करने वालों के खिलाफ कडी कार्यवाही करने के निर्देश दिये। ग्रामीणों द्वारा भटलिया-चौखुटा पेयजल योजना में पुरानी लाईन को ही नई लाईन दिखाने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारी को पेयजल लाईन की फोटो भेजने के निर्देश दिये। ग्रामीणों द्वारा बताया गया कि चौरलेख इण्टर कालेज में बने कक्ष, जो अभी तक विद्यालय को हस्तगत नहीं किये गये। इस पर जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी रेखा कोहली को जांच करने के निर्देश देते हुए सम्बन्धित निर्माणकर्ता से वसूली कराने के निर्देश दिये। उन्होनें छत टपकने वाले विद्यालयों की सूची मांगते हुए दैवीय आपदा के अन्तर्गत रखने के निर्देश दिये। साथ ही पहाडपानी इण्टर कालेज के कमरे जीणशीर्ण होने की शिकायत पर जीणशीर्ण कमरे ध्वस्त कराने के निर्देश भी दिये। जिलाधिकारी ने कुपोषित बच्चों के स्वास्थ्य सुधार हेतु ऊर्जा आहार शीघ्र वितरित कराने के साथ ही बच्चों के नियमित स्वास्थ्य परीक्षण कराने के निर्देश भी दिये।

विधायक रामसिंह कैडा ने सदन को सम्बोधित करते हुए कहा कि जनप्रतिनिधि अधिकारियों के साथ समन्वय बनाकर कार्य करें। साथ ही उन्होनें कहा कि सदन में जो भी समस्यायें उठती हैं, उनका समय से समाधान किया जाये। जिससे अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों का विश्वास बना रहता है। उन्होनें ब्लॉक स्तर पर श्रम विभाग का शिविर लगाने की मांग भी की। उन्होनें काश्तकारों को आलू व सेब फसल बीमा शीघ्र दिलाने की मांग की।

 

ब्लाक प्रमुख अंजू नयाल ने सभी अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों से कहा कि आपसी तालमेल कर क्षेत्र के विकास में सहभागी बने व जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ जनता तक पहुंचाये।
मुख्य विकास अधिकारी प्रकाशचन्द्र ने कहा कि क्षेत्र पंचायत की बैठकें जन समस्याओं व सुझावों का महत्वपूर्ण मंच है। इसमें उठी समस्याओं व सुझावों को अधिकारी गम्भीरता से लेते हुए उनका निराकरण करना सुनिश्चित करें। उन्होनें कहा कि जनप्रतिनिधियों व अधिकारी आपस में दूरभाष से सम्पर्क अवश्य करें ताकि संवादहीनता न रहे व जनता की समसयाओं का समाधान समय से हो सके। उन्होनें कहा कि सीमित संसाधनों में अधिकतम गुणवत्ता पूर्ण कार्य करना हमारा दायित्व है, इसलिए अधिकारी कार्यों में गुणवत्ता के साथ ही समयबद्धता पर विशेष ध्यान दे। उन्होनें सडक, सीसी, खडंजा निर्माण कार्यदायी संस्था गुणवत्ता का प्रमाण-पत्र अवश्य देना सुनिश्चित करेंगे तभी भुगतान किया जायेगा। उन्होनें जंगलों में लगी आग से सटे गांवों के लिए मनरेगा से फायर लाईन बनाने को कहा। उन्होनें कहा कि जिस व्यक्ति द्वारा मनरेगा में एक वित्तीय वर्ष में 90 दिन कार्य किया है, उन्हें उत्तराखण्ड भवन एवं सन्निमार्ण कल्याण बोर्ड में पंजीकृत किया जायेगा। उन्होनें जनता की मांग पर पहाडपानी में 08 मई पदमपुरी में 11 मई को विशेष चिकित्सा शिविर नियमित लगाये जाने को कहा, इसका अधिक से अधिक लाभ क्षेत्रवासी उठायें।
जनप्रतिनिधियों द्वारा बनियाल ग्राम में प्राथमिक विद्यालय खोले जाने की मांग की गयी। राजकीय इण्टर कालेज पदमपुरी में भवन एवं लैब निर्माण, चैरलेख विद्यालय में शिक्षकों के 04 पदों की स्वीकृति, पहाडपानी राजकीय इण्टर कालेज में 05 पद सृजन की मांग की गयी। ग्रामीणों द्वारा सुन्दरखाल ग्राम में विद्युत बिल जमा कराने हेतु शिविर की मांग, पनियाली गांव में 07 लकडी के पोल बदलने के साथ ही भीमताल सब डिवीजन में 250 लकडी के पोल शीघ्र बदलवाने के मांग सहित प्रमुख ने ससवनी में 10 पोल लगाने की मांग रखी। ग्रामीणों द्वारा कुछ लोगों द्वारा पेयजल लाईन से छेडछाड की शिकायत पर जिलाधिकारी द्वारा पेयजल लाईन से छेडछाड करने वाले के विरूद्ध एफआईआर दर्ज करते हुए कडी कार्यवाही के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने कृषि, उद्यान, पशुपालन, विभाग की समस्याआें को सुनकर सम्बन्धित विभागों को आवश्यक निर्देश दिये।
बैठक में प्रमुख अंजू नयाल, ज्येष्ठ प्रमुख जीवन बर्गली, कनिष्ठ प्रमुख दीपक दानी, प्रधान संजय पाण्डे, कमला वर्मा, मुन्नी देवी, त्रिलोचन शर्मा, मुख्य विकास अधिकारी प्रकाशचन्द्र, उप जिलाधिकारी रेखा कोहली, जिला विकास अधिकारी रमा गोस्वामी ,खण्ड विकास अधिकारी संगीता आर्य, अधिशासी अभियन्ता लोनिवि एचएस रावत, जिला पूर्ति अधिकारी तेजबल सिंह, मुख्य कृषि अधिकारी धनपत कुमार, आरईएस इन्दरलाल आर्य, विद्युत मौ0 उस्मान, जल संस्थान जगदीप चौधरी, डीपीआरओ एपी सिंह, उद्यान अधिकारी डा0 रामेश्वर सिंह, जिला शिक्षा अधिकारी हीरालाल गौतम, सहित अनेक अधिकारी व जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।