बूढ़े भिखारी को ये वस्तुएं करे दान नहीं होगी धन-धान्य की कमी…

Facebooktwittergoogle_pluspinterest

नई दिल्ली : गरीबो की सुनो, वो तुम्हारी सुनेगा, तुम 1 पैसा दोगे वो दस लाख देगा। कितनी दुआ है इस गीत में और कितना फायदा। हमारे शास्त्रों में बताया गया है कि अगर हम भिखारियों को एक खास तरह की चीज दान करेंगे तो हमारे जीवन से सारे कष्ट दूर हो जाएंगे लेकिन आपको इस बात का ध्यान रखना है कि यह दान आप  भिखारियों को ही करें। हिन्दू मान्यताओं के अनुसार दान करने का अत्यधिक महत्व है। ऐसा कहा जाता है कि दान करने से पुण्य की प्राप्ति होती है। मंदिरों के बाहर, ट्रैफिक सिगनल पर या सडक़ के किनारे बैठे भिखारियों को दान करने से हम जीवन की कुछ परेशानियों से मुक्ति पा सकते हैं। लेकिन कुछ खास चीजों का दान करने से धन संबंधी सभी समस्याएं आसानी से दूर होती है। साथ ही यह दान बूढ़े भिखारियों को ही देना ही लाभकारी सिद्ध होता है। शास्त्रों के अनुसार ये हो वो तीन चीज जिसे अमावस्या के दिन दान करने से धन-धान्य की सभी समस्याएं दूर होती है।

भिखारी

पीतल की वस्तु का भी करें दान

किसी भी अमावस्या के दिन बाजर से पीतल की वस्तु या बर्तन खरीदकर ले आएं। फिर उसे हर के मंदिर में इस पर हल्दी का लेप लगाकर इसकी पूजा करें और किसी बूढ़े भिखारी को दान में दें। ऐसी मान्यता है कि इस दान के बाद घर में धन-धान्य की कभी कमी नहीं होती है।

लौंग लगा नोट 

किसी भी अमावस्या के दिन पूजा घर में दीपक के तेल में एक लौंग डालकर उसे जलाएं। दीपक पूरा जल जाने के बाद लौंग को 10 रुपये के या इससे अधिक के नोट पर गाड़ दें और लौंग लगा यह नोट बाहर जाकर किसी बूढ़े भिखारी को दान कर दें। मान्यता है कि ऐसा दान करने से धन संबंधी रुके हुए सभी काम बन जाते हैं।

laung

चांदी के सिक्के का दान

शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा जो कि किसी भिखारी को चांदी दान में दे। लेकिन अमावस्या के दिन किसी बूढ़े भिखारी को पूरे मन से चांदी दान में दें। ऐसा दान आपकी कई समस्याओं का अंत करके आपको एक खुशहाल जी वन प्रदान करेगा।

 

loading...